Breaking News
Home / Breaking News / माँ की इच्छा के विरुद्ध जाकर बनें क्रिकेटर, जीताया भारत को अंडर 19 का वर्ल्ड कप

माँ की इच्छा के विरुद्ध जाकर बनें क्रिकेटर, जीताया भारत को अंडर 19 का वर्ल्ड कप

manjot_1517645089_618x347

नई दिल्लीः अंडर-19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन देते हुए ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया। फाइनल में टीम इंडिया के ओपनर मनजोत कालरा ने शानदार शतक लगाकर टीम को जीत के करीब ला दिया। उन्होंने 101 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। अपनी शतकीय पारी में कालरा ने 3 फर्राटेदार छक्के और 8 चौके लगाए।

कालरा ने अंडर-19 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ शानदार 47 रनों की पारी खेली थी और टीम इंडिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। यही नहीं, इस अंडर-19 वर्ल्ड कप में कालरा ने 350 से ज्यादा रन बनाए हैं।

कालरा अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में खेल रही भारतीय टीम में दिल्ली के एक मात्र खिलाड़ी हैं। वो दिल्ली के आजादपुर मंडी में रहते हैं। उनके पिता प्रवीण कुमार व्यापारी हैं। वो चाहते थे कि मनजोत पढ़ाई करे और उसी आधार पर अपने जीवन में आगे बढ़े।

मनजोत के अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में चुने जाने पर खुशी जताते हुए कहा था कि मनजोत खेल-खेल में खिलाड़ी बन गया। उन्होंने कहा कि मनजोत पढ़ने में तेज था इसलिए हमें लगता था कि वो पढ़ाई में ही आगे जाएगा। वहीं, उसके बड़े भाई को क्रिकेट से लगाव था। मनजोत अपने बड़े भाई के साथ ही मैच खेला करता था। ऐसे ही खेलते-खेलते वो टीम इंडिया में पहुंच गया।

आपको बता दें कि आईपीएल 11  के ऑक्शन में मनजोत कालरा अपने बेस प्राइस 20 लाख रुपए में बिके। उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा। बता दें कि मनजोत के अंडर-19 की टीम इंडिया में शामिल होने पर विवाद खड़ा हो गया था। आरोप लगाए गए थे कि मनजोत वर्ल्ड कप में नहीं खेल सकते क्योंकि उनकी उम्र 19 से ज्यादा है। हालांकि, सारे आरोप गलत साबित हुए और मनजोत को टीम में शामिल होने में कोई परेशानी नहीं हुई।

About mohit naagar

Check Also

WhatsApp Image 2018-05-26 at 1.40

आगामी चुनाव में प्रदेश की जनता खट्टर सरकार को दिखाएगी आईना : मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली: हरियाणा में लगातार बढ़ रही गर्मी में जनता को पानी, बीजली की हो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *